10+ Blood Donation Motivational Quotes | Slogans in Hindi


Blood Donation: रक्तदान( blood donation ) को महादान भी कहा जाता है। आपका किया रक्तदान (Blood Donation) किसी के प्राण बचाता है ऐसा दान तो महादान ही कहलाता है । इसीलिए विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा रक्तदान को समर्पित रक्तदान दिवस (Blood Donation Day) 14 जून 2004 को घोषित किया गया। यह हर वर्ष मनाया जाता है। इसका उद्देश्य लोगों को रक्तदान (Blood Donation) के प्रति जागरूक करना है।
Blood Donation Motivational Quotes
Blood Donation Motivational Quotes

Blood Donation Motivational Quotes IN HINDI--रक्तदान पर कविताएँ | कोट्स | नारे 2020

भारत में राष्ट्रीय स्वैच्छिक रक्तदान दिवस 1 अक्टूबर को मनाया जाता है। लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए नीरज बंसल की प्रेरक Blood Donation Motivational Quotes.....

Blood Donation Motivational Quotes: रक्तदान

हो जाए आपकी,जन्नत की हर एक हस्ती दीवानी
आओ हम लिख चले धरा पर कोई ऐसी कहानी
बिन जले भी आप रब की आँखों के नूर हो सकते हो
रक्तदान करके भी आप मशहूर हो सकते हो

रक्तदान तो है एक अहसास हसीन खूबसूरत
बना देता ये इंसान को ममता की अदभुत मूरत
देकर किसी को दान लहू का
आप देवता तो जरूर हो सकते हो
रक्तदान करके भी आप मशहूर हो सकते हो

बस खुद को इतना समझाना पड़ता है
खुद को जमीन का देवता बनाना पड़ता है
देकर अपने जिस्म का अंश किसी को
खुद की सांसो के आप गरूर हो सकते हो
रक्तदान करके भी आप मशहूर हो सकते हो

रक्तदानी की रब खुद तकदीर लिखता है
किस्मत का देवता रक्तदानी को खुद दिखता है
रक्तदानी होना तो होती फख्र की बात
आप अपनी तकदीर पर मगरूर हो सकते हो
रक्तदान करके भी आप मशहूर हो सकते हो

बनकर रक्तदानी जो किसी की जान बचाता
उस पर कभी नही मुसीबतों का मौसम आता
काल का देवता भी डरता रक्तदानी से
आप हर मुसीबत परेशानी से दूर हो सकते हो
रक्तदान करके भी आप मशहूर हो सकते हो

नीरज रतन बंसल 'पत्थर'


Blood Donation Slogan: अनमोल बूंद बूंद रक्त की ये कहती

अनमोल बूंद बूंद रक्त की ये कहती
अ मानव,मानवता तेरे जिस्म में है रहती
ढूँढता है जिस पूण्य के सागर को तू भटककर
हर धारा उसकी तेरी नसों से है बहती

आज तक ये ना हमे समझ आया
क्यूं समझता मानुष,मानुष को पराया
पा गया वही जमीन पर जन्नत को
जिसने भी अपना मानव धर्म निभाया
हो गयी हर एक साँस वो तो अमर
जिसकी धड़कने दूसरों की पीड़ा है सहती
अनमोल बूंद बूंद रक्त की ये कहती

मत खाओ बिन बात प्यारों अपनों से खार
खुल जाएंगे तुम्हारी बंद किस्मत के द्वार
मदद करना ही इंसानियत कहलाती धरा पर
दिल से दान देना ही होता है जीवन का सार
देख कर दानवीरों की दिवानगी
हर दिवार शैतानियत की है ढहती
अनमोल बूंद बूंद रक्त की ये कहती

नीरज रतन बंसल 'पत्थर'


Blood donation quotes in hindi: रक्तदानी part-II

कोई दूजा जमीन पर नही है भगवान
सब कुछ तेरे हाथों है अ प्यारे इंसान
कर के रक्तदान कर दे जगत का कल्याण
सब कुछ तेरे हाथों है अ प्यारे इंसान

जमीन पर ही हसीन जन्नत उसने है पाई
जिस जिस ने भी कर ली मानवता से सगाई
तू ही है भगवान जमीन का अ मानव प्यारे
आगे बढ़कर थाम ले तू हर बेबस की कलाई

सब कुछ तुझे भी पता है ज्ञानी
जानबूझ कर बनता है तू तो अंजान
कोई दूजा जमीन पर नही है भगवान
सब कुछ तेरे हाथों है अ प्यारे इंसान

दिया है विधाता ने सबको वर ये निराला
के भरकर चलती रुधिर से हर रक्तशाला
देकर अपने अदभुत जिस्म से ये नूर की बुँदे
कर दे तू हर जरूरतमन्द की रूह में उजाला

देना ही फितरत होती सदा भगवानों की
होता है इससे ही सदा इंसानियत का कल्याण
कोई दूजा जमीन पर नही है भगवान
सब कुछ तेरे हाथों में है अ प्यारे इंसान

रक्तदान करने से जो भी प्राणी डरता है
समझो वो तो अधर्म का काम करता है
इंसान ही आता काम इंसान के जमीं पर
बिन काम आये भी बताओ कब सरता है

आओ बताता हूँ भगवान की परिभाषा
हर सच्चा आदमी होता है हनुमान
कोई दूजा जमीन पर नही है भगवान
सब कुछ तेरे हाथों में है अ प्यारे इंसान

नीरज रतन बंसल 'पत्थर'


Blood Donation Slogans: जोर जोर से आवाज देता है सबको लहू

जोर जोर से आवाज देता है सबको लहू
अ मानव कब तक मैं तेरी, इंसानियत का भूखा रहूं
बिन मेरे ना मरे धरती पर कोई भी बेचारा
जी करता है मेरा मैं सबकी रगों में बहूँ ||

किस बात से अ मानव प्यारे तू डरता है
देख कोई तेरा अपना बिन लहू के मरता है
दुनिया में आदमी ही आता आदमी के काम
बिना आदमी यहां कहाँ आदमी को सरता है
तूने किया है रक्तदान जाने अनजाने ही सही
आ तुझको मैं एक फरिश्ता कहूँ
जोर जोर से आवाज देता है सबको लहू ||

उस उसने तो मानवता का परिचय दिया है
जिस जिसने भी रक्तदान का निश्चय किया है
हार कर किसी जरुरतमन्द को अपना लहू
उसने हर देवता का ह्रदय विजय किया है
हो रही है जय जयकार आसमानों में भी
कह रहे देव सारे के कोई जमीन पर भी है हम सा हुबहू
जोर जोर से आवाज देता है सबको लहू ||

क्यूं ना अ मानव तू मानवता से हाथ मिलाता
सोच कर देख ऐसा करके तेरा क्या है बिगड़ जाता
मिलती नही उनको जन्नत में जगह माकूल
जो जो भी आदमी बिना रक्तदान के है रह जाता
अ आदमी यूँही नही की है तेरी रचना परमात्मा ने
जमीन का सबसे बड़ा भगवान है तू
जोर जोर से आवाज देता है सबको लहू ||

नीरज रतन बंसल 'पत्थर'


Blood Donation Slogan: विधाता ने किया कमाल

blood donation quotes in hindi
बड़ा अदभुत किया है विधाता ने कमाल
हर मानव के खून का रंग बनाया है लाल
जो जो दानी करते है अपने लहू का दान

हर घड़ी रहता है उनके चेहरे पर जमाल
दौलत कमा कमाकर किसी का पेट भरा है
हमेशा अमीरों को भी दान देकर ही सरा है
सड़ जाती है अथाह दौलत भी एक दिन
पर दानवीरों का खजाना तो सदा रहता हरा है
रक्तदाता तो होता हर दानवीर से बड़ा
पूछते है देव खुद आकर उसका हाल
बड़ा अदभुत किया है विधाता ने कमाल

होता है जिसका ह्रदय औरों की खातिर व्याकुल
खिले रहतें है उसके दिल उपवन में हजारों अनोखे गूल
जो जो भी करता है निस्वार्थ भाव से रक्तदान यहां
बेदर्द किस्मत भी बन जाती है उसके कदमों की धूल
बन जाता है सबका चहेता रक्तदानी तो
कुछ ना कहता उसको कभी बेदर्द काल
बड़ा अदभुत किया है विधाता ने कमाल

बना दे हे भगवान तो सबको अमर ज्ञानी
ताकि हर धडकन हो जाये सदा के लिये दानी
अर्ज है परमात्मा से वो बो दे हर जिस्म में इंसानियत
ताकि हर साँस हो यहां दूजी साँस की कल्याणी
जुड़ जायें मानव संग यूँ रिश्ता मानव का
जैसे बंधी हो कोई ममता की नाल
बड़ा अदभुत किया है विधाता ने कमाल

नीरज रतन बंसल 'पत्थर'

Read More Hindi Poems:

टिप्पणी पोस्ट करें

3 टिप्पणियां

Disclaimer

The contents on this website can be read and shared for personal entertainment purposes only. If you want to republish this work in a commercial setting, please contact the author. All the images, Poems, Quotes, Slogans, Thoughts, Vichar in Hindi and blogs are subject to copyright. Viewers are free to share the content on their social media but all rights are reserved by Hindi Suvichar. In case of any dispute after sharing, the person sharing the content will be solely responsible for any damages. The author does not take responsibility once the content is shared through social media.